पिगमेंटेशन हटाने के घरेलू उपाय

पिगमेंटेशन हटाने के घरेलू उपाय

पिगमेंटेशन होने पर हमारे चेहरे पर झाईयां, दाग-धब्बें, कालापन जैसी समस्याएं आने लगती है, जिसका तुरंत इलाज करना जरूरी होता है अन्यथा यह लगातार बढ़ते चले जाते है, आज हम पिगमेंटेशन हटाने के घरेलू उपाय जानेंगे।

पिगमेंटेशन क्या है?

हमारे चेहरे की त्वचा में “मेलेनिन” नामक एक प्रदार्थ होता है, जो हमारी त्वचा की रंगत यानि गोरी या गहरे रंग की त्वचा होने को कंट्रोल करता है,
जब हमारी त्वचा इस “मेलेनिन” का उत्पादन अधिक मात्रा में करने लगती है तो हमारी त्वचा का रंग गहरा होने लगता है और जब इस “मेलेनिन” का उत्पादन कम होने लगता है तब चेहरे की त्वचा का रंग गेहुंआ या गोरा होने लगता है,

होता यह है की जब हमारी त्वचा की कोशिकाएं क्षतिग्रस्त या कमजोर पड़ने लगती है तब इस “मेलेनिन” का उत्पादन अव्यवस्तित होने लगता है, जो की हमारे चेहरे पर या तो काले धब्बों, झाइयों को बढ़ाने लगता है या फिर सफ़ेद धब्बों के रूप में, इसी प्रकिया को “पिगमेंटेशन” बोला जाता है। आइये जानें पिगमेंटेशन हटाने के घरेलू उपाय

पिगमेंटेशन के प्रकार

पिगमेंटेशन 3 प्रकार के होते है।
  • ऐल्बिनिज्म (अल्बिनो)
  • मेलास्मा
  • विटिलिगो

ऐल्बिनिज्म (अल्बिनो) – यह अनुवांशिक होता है, ऐल्बिनिज्म से पीड़ित व्यक्ति के बाल सफ़ेद, रूखे और बेजान त्वचा और आँखे नीली होती है जो की धूप में जाने पर लाल हो जाती है, इसकी वजय से व्यक्ति की दृष्टि भी ख़राब होती है,
ऐल्बिनिज्म के लाइलाज बीमारी है, इस बीमारी में सूर्य की रौशनी में निकलने से बहुत परेशानी होती है।

मेलास्मा – पिगमेंटेशन के इस प्रकार में मेलास्मा सबसे आम समस्या है और यह विशेषकर महिलाओं में ही देखने हो मिलती है,
मेलास्मा में चेहरे पर भूरे या गहरे रंग के धब्बें पड़ते है, जिन्हें हम झाइयां बोलते है, मेलास्मा की परेशानी 20 से 50 वर्ष की महिलाओं काफी आम देखी जा सकती है,

मेलास्मा की समस्या महिलाओं में गर्भावस्था, तनाव, अधिक सूर्य के संपर्क में आने से, वातावरण, प्रदुषण, असंतुलित हार्मोन्स या अधिक गर्भ निरोधक गोलियां के सेवन से हो सकती है।

विटिलिगो – पिगमेंटेशन की इस परेशानी को सफेदा भी बोला जाता है, भारत में लोग इस परेशानी को छूत की बीमारी समझते है, विटिलिगो को भी एक अनुवांशिक बीमारी ही माना जाता है,
विटिलिगो की परेशानी में चेहरे की त्वचा पर सफ़ेद धब्बें होते है और यह सफ़ेद धब्बें चिकने होते है, कुछ ही मामलों में यह पूरी तरह से ठीक हो पाती है।

पिगमेंटेशन हटाने के घरेलू उपाय

पिगमेंटेशन के कारण

मेलानिन का अधिक बढ़ना – मेलानिन नामक प्रोटीन जो हमारी त्वचा के रंग को कण्ट्रोल करता है, जब इसकी मात्रा अधिक बढ़ने लगती है तब हमारी त्वचा का रंग गहरा होने लगता है,
चेहरे पर जहां जहां मेलानिन अधिक बढ़ जाता है वहां वहां यह गहरे धब्बों या झाइयों के रूप में दिखलाई देने लगता है।

अधिक सूर्य के संपर्क में रहना – जब गोर रंग के लोग बहुत अधिक सूर्य की हानिकारक किरणों के संपर्क में रहते है, तो उनकी त्वचा पर सूर्य की हानिकारक किरणों का बुरा असर चेहरे की चमड़ी पर पड़ता है,
जो की त्वचा के पिगमेंटेशन का कारण बनता है और दाग और झाइयां पड़ने लगती है।

हार्मोनल कारण – व्यक्ति में हार्मोन्स का असंतुलन भी पिगमेंटेशन के मुख्य कारणों में से एक है, और चेहरे पर दाग और झाइयां उभरने लगते है।

गर्भावस्था – गर्भावस्था के दौरान स्त्रियों के हार्मोन्स में बहुत से बदलाव आते है, जिसके कारण अक्सर आपने देखा होगा की गर्भवती स्त्रियों की आँखों के नीचे और चेहरे पर झाइयां उभर आती है।

अनुवांशिक कारण – यह भी पिगमेंटेशन (दाग और झाइयां ) होने के कारणों में से एक है, अगर आपके माता, पिता या परिवार में इसकी समस्या है, तो यह अनुवांशिक तौर पर आपको भी होने के बहुत अधिक चांसेस हो सकते है।

इन्फेक्शन – अगर आपके चेहरे पर किसी प्रकार का इन्फेक्शन है तो यह भी पिगमेंटेशन का एक कारण हो सकता है।

तनाव – आजकल की इस भागदौड़ भरी जिंदगी में बहुत से तनाव भी पिगमेंटेशन का कारण बनते है।

अनिंद्रा – कम नींद या नींद पूरी न होना भी पिगमेंटेशन का एक कारण हो सकता है, जिसकी वजय से चेहरे पर दाग-धब्बें और झाइयां उभर सकते है।

पिगमेंटेशन हटाने के घरेलू उपाय

झाइयों और दाग-धब्बों कम करने के बहुत से तरीके है, अगर चेहरे की झाइयां और धब्बें हल्के है तो इन्हे आप स्किन लाइटनिंग और सन ब्लॉकिंग क्रीम के नियमित इस्तेमाल से भी कम कर सकते है,

अगर यह झाइयां और धब्बें काफी अधिक गहरे है तो आपको केमिकल पील, माइक्रो नीडलिंग, लेजर थेरेपी और कैमफ्लाश़ को इन्हें दूर करने के लिए इस्तेमाल करना होगा,
लेकिन जब आप इन उपायों को इस्तेमाल करेंगे तब आपको कुछ बातों का विशेष ख्याल रखना होगा जैसे की:-

  • अगर आप बर्थ कंट्रोल या फर्टीलिटी बढ़ाने की दवाओं का इस्तेमाल कर रहे है तब आपको इनके सेवन को रोकना होगा।
  • धूप में निकलने से बचना होगा, अगर आपको धूप में निकलना पड़ रहा है तो आपको अपने चेहरे को ढक कर रखना होगा।
  • अगर आप मेकउप में है तो मेकअप को बहुत देर तक लगे नहीं रहने देना होगा।

1. स्किन लाइटनिंग क्रीम

स्किन लाइटनिंग क्रीम में हाइड्रोक्वीनाइन होता है, जो की चेहरे की त्वचा के मेलेनिन की मात्रा को कण्ट्रोल करता है,
मेलेनिन का कम या अधिक होना चेहरे के दाग-धब्बों और झाइयों का कारण बनता है, जब मेलेनिन की मात्रा नियमित हो जाती है तो चेहरे के दाग-धब्बों और झाइयां दूर होने लगते है।

2. केमिकल पील्स

केमिकल पील्स का इस्तेमाल चेहरे की ऊपरी त्वचा को हटाने के लिए किया जाता है, जब त्वचा की ऊपरी परत हटती है तब अंदर की साफ त्वचा बाहर आती है,
केमिकल पील्स में बहुत सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है, गलत या अधिक केमिकल पील्स आपकी त्वचा को बहुत ज्यादा सफ़ेद कर सकता है,

इसलिए इसे बहुत सुरक्षित तरीका से ही करना चाहिए और किसी चर्मरोग विशेषज्ञ की निगरानी में ही इसे किया जाना चाहिए।

3. माइक्रोनीडलिंग

माइक्रो नीडलिंग एक कॉस्मेटिक प्रक्रिया होती है जिसमें छोटी सुइयों का इस्तेमाल दाग-धब्बों, रोमछिद्रों, झुर्रियों, मुहासों के उपचार के लिए किया जाता है,
इस उपचार द्वारा नए कोलेजन और त्वचा के नए ऊतकों को जनन किया जाता है, जिससे दाग़-धब्बों और झाइयों को कम किया जाता है,
इस प्रक्रिया में चेहरे की त्वचा छिल भी सकती है।

4. लेजर थेरेपी

लेजर थेरेपी में झाइयों और काले दाग-धब्बे को ख़त्म करने के लिए लेजर का इस्तेमाल किया जाता है।

पिगमेंटेशन के लिए क्रीम-Skin Pigmentation in hindi

पिगमेंटेशन हटाने के घरेलू उपाय: Natural Remedy

ऐसे बहुत से आसान घरेलु उपाय है जिनके इस्तेमाल से आप अपने चेहरे के दाग-धब्बों और झाइयों को कम कर सकते है और यह चीजें आपकी रसोई में आसानी से उपलब्ध रहती है,
सबसे बड़ी बात की यह चीजें बहुत कारगर तो है ही साथ ही इनके इस्तेमाल से आपको किसी भी तरह के साइड एफेक्ट का भी कोई खतरा नहीं है, बल्कि इनके नियमित इस्तेमाल से आपको मिलती है दाग-धब्बों और झाइयों रहित खूबसूरत त्वचा, तो आइये जानते है ऐसे ही कुछ लाभकारी घरेलु उपाय।

1.गाजर से झाइयों पर लाभ

जैसा की हम सभी जानते है की गाजर खाने में सवादिष्ट तो होती ही है और इसके बहुत से गुणकारी लाभ भी है, साथ ही यह आपके चेहरे की त्वचा के लिए भी बहुत लाभकारी है,
गाजर बहुत से एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर है, गाजर में मौजूद बीटा कैरोटीन और आयरन आपकी त्वचा को बहुत पोषक तत्व प्रदान करते है, आपके चेहरे के दाग-धब्बों और झाइयों को दूर करते है और साथ ही आपकी त्वचा को नर्म, मुलायम और सुन्दर बनाये रखते है।

इस्तेमाल का तरीका

गाजर को कद्दूकश करके उसे निचोड़ कर उसका रस निकाल ले, अब इसमें १ चम्मच कच्चा दूध मिला लें, अब इस मिश्रण को अपने चेहरे के दाग-धब्बों और झाइयों पर रुई की फांख से थोड़ी थोड़ी देर तक लगाती रहे, फिर उसे १५ से २० मिनट तक लगा रहने दे,
ऐसा नियमित करने से आप देखेंगी की आपके दाग-धब्बों और झाइयां धीरे धीरे कम होने लगेंगी।

2.आलू से झाइयों पर लाभ

आलू भी दाग-धब्बों और झाइयों को कम करने के लिए बहुत लाभकारी है, आलू में मौजूद एंटी पिगमेंटेशन तत्व दाग-धब्बों और झाइयों को कम करने में बहुत सहायक होते है,
आलू के नियमित इस्तेमाल से काफी लाभ मिलते है।

इस्तेमाल का तरीका

पहला तरीका- आलू को कद्दूकश करके उसका रस निकाल लें, अब उस रस को अपने दाग-धब्बों और झाइयों पर थोड़ी थोड़ी देर लगाती रहे,
दूसरा तरीका- आलू को बीच में से २ टुकड़ों में काट लें, अब इन कटे हुए टुकड़ों को अपने दाग-धब्बों और झाइयों पर हल्के हाथों से मलती रहे, ऐसा आप १५ से २० मिनट नित्य रोज करें, आपको दाग-धब्बों और झाइयों में बहुत लाभ होगा।

3.एलोवीरा से झाइयों पर लाभ

एलोवीरा के लाभों के बारे में तो आपने सुना ही होगा, एलोवीरा में मौजूद तत्व चेहरे सुंदरता और चेहरे की बीमारियों में अत्यंत लाभकारी होता है, एलोवीरा एक प्रकार का प्राकृतिक एंटी पिगमेंटेशन है, जो आपके चेहरे के सभी प्रकार के दाग-धब्बों और झाइयों और त्वचा के रोगों को ख़त्म करता है,

इस्तेमाल का तरीका

एलोवेरा की टहनी को काट कर गूदे वाले हिस्से को ऊपर से छील लें, अब इस गूदे में थोड़ा शहद मिला कर अच्छी तरह से फैंट ले,
अब इस गूदे को या तो अपने चेहरे पर लगा कर २० मिनट तक सूखने दे या फिर इस मिश्रण को अपने हाथों ले लेकर धीरे धीरे मलती रहें।

4.हल्दी से झाइयों पर लाभ

हल्दी में प्राकृतिक रूप से मौजूद एंटी इंफ्लेमटरी और एंटीसेप्टिक गुण चेहरे के दाग-धब्बों और झाइयों के के लिए बहुत लाभकारी होते है, हल्दी चेहरे के रंग को साफ करती है और चेहरे के दाग-धब्बों और झाइयों को कम करती है।

इस्तेमाल का तरीका

२ चम्मच कच्चे दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाकर छोड़ दे और २० मिनट बाद चेहरा धो ले,
दूसरा २ चम्मच बेसन में आधा या कम चम्मच हल्दी बेसन में मिलकर उसमें १ चम्मच दूध मिलाकर पेस्ट तैयार कर ले और इसे अपने पुरे चेहरे पर लगाए,
ऐसा नियमित करने से चेहरे के दाग-धब्बों और झाइयां खत्म होंगे और चेहरे में निखार आएगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top