मिलिया का आयुर्वेदिक इलाज

मिलिया का आयुर्वेदिक इलाज

आजकल का वातावरण और जीवनशैली हमात्र चेहरे की सुंदरता को कई तरह से प्रभावित करती है। जिनके लिए बाजार में बहुत तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट्स उपलब्ध। है। लेकिन इन ब्यूटी प्रोडक्ट्स में केमिकल्स के इस्तेमाल की वजय से कई बार हम इन्हें उपयोग से घबराते कही कोई साइड एफेक्ट ना हो जाये। इसी कारण से आजकल लोगों का झुकाव आयुर्वेदिक और हर्बल प्रोडक्ट्स की तरफ बढ़ने लगा है। आइये आज की इस पोस्ट “मिलिया का आयुर्वेदिक इलाज” में हम मिलिया से पीड़ित महिलाओं के लिए ऐसे ही कुछ घरेलु उपायों के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे जिनके इस्तेमाल से मिलिया जैसी समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।

मिलिया का आयुर्वेदिक इलाज-मिलिया क्या है

सबसे पहले तो यह जानना जरुरी होगा की मिलिया क्या है। मिलिया चेहरे पर खासकर आँखों के नीचे होनेवाले छोटे छोटे सफ़ेद धब्बें होते है जिन्हें अंग्रेजी में Milk spots या Oil seeds कहते है। यह सफ़ेद या पीले से रंग के होते है। आप इसे पोस्ट में प्रदर्शित image में देख सकते है।
यह मिलिया हमारे चेहरे की सुंदरता को बिगाड़ता है, इसके होने से चेहरे की सुंदरता कम हो जाती है और दिखने में भी यह भद्दा लगता है। इसलिए इसका इलाज समय से हो जाना अच्छा होता है।

मिलिया किसी को भी किसी भी समय हो सकता है और मिलिया होने के बहुत से कारण हो सकते है जैसे की चेहरे की गन्दगी की वजय से, त्वचा के रूखेपन से, चेहरे की ऊपरी मृत त्वचा की वजय से, सूर्य की हानीकारक किरणों की वजय से या फिर सस्ते और केमिकल युक्त ब्यूटी प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल की वजय से।

वैसे तो आपको मिलिया से डरने की जरुरत नहीं है। यह किसी कारण से होता है और फिर कुछ हफ्तों में अपनेआप ही ठीक भी हो जाता है। लेकिन अगर ज्यादा ही लापरवाही की जाये तो यह लम्बे समय तक या स्थाई रूप से भी रह सकता है। इसलिए इसका समय रहते ही इलाज कर लिया जाये तो बेहतर होता है।

मिलिया का आयुर्वेदिक इलाजमिलिया से बचाव के कुछ टिप्स

चहरे को साफ रखना

अगर हमारा चेहरा साफ नहीं रहेगा तो उसके अंदर गंदगी जमने लगती है। जो हमारी त्वचा को डेमेज करती है। शुद्ध ऑक्सीजन हमारी त्वचा के अंदर पहुंच नहीं पाती जिसकी वजय से चेहरे की त्वचा पर कई तरह की समस्याएं उभरने लगती है। इसलिए अपने मिलिया प्रभावित जगह को किसी अच्छे light हर्बल आयुर्वेदिक साबुन से अपने चेहरे को अच्छी तरह से साफ रखें। जिससे की हमारे चेहरे के पोर्स में गंदगी जमा ना हो पाए।

एक्सफोलिएट करना

मिलिया को दूर करने के लिए सप्ताह में २ से ३ बार अपनी त्वचा को एक्सफोलिएट जरूर करें। एक्सफोलिएट का मतलब होता है स्क्रब करके अपनी ऊपरी मृत त्वचा को हटाना। जो की बहुत हद तक मिलिया पैदा करने की जिम्मेदार होती है।

स्टीम करना

स्टीम करना मतलब चेहरे को भाप देना। स्टीम करने से चेहरे के बंद रोम छिद्र खुलते है और साफ रहते है। इन्हीं रोम छिद्रों में ही गन्दगी जमा होती है जो मिलिया होने के कारण बनती है। बराबर स्टीम लेने से आपका चेहरा साफ और स्वस्थ रहता है जिससे मिलिया की सम्भावना बहुत अधिक हद तक कम हो जाती है।

संतुलित लाइफस्टाइल और खानपान

लाइफस्टाइल और खानपान भी हमारी सुंदरता को कम करने का एक बहुत बड़ा कारण है। अपने शरीर का ख्याल रखना, एक्सरसाइज और वॉक करना, तली भुनी-वसा युक्त भोजन से दूर रहना, अंडे मांस मछली का नियमित मात्रा में सेवन करना, 8-9 गिलास पानी पीना, हैल्दी फ़ूड लेना यह सब भी आपको मिलिया से दूर रखेगा।

मिलिया के घरेलु आयुर्वेदिक उपाय

कैस्टर ऑयल – जिसे हम अरंडी का तेल के नाम से जानते है। यह बाजार में आसानी से मिल जाता है। रोजाना सुबह और रात को सोते समय अपने मिलिया स्थान पर कैस्टर ऑयल लगाए। इससे आपको मिलिया से बहुत जल्दी आराम मिलेगा।

लहसुन – मिलिया को ख़त्म करने में लहसुन भी बहुत कारगर साबित होता है। लहसुन की 3-4 कलियों को बारीक़ पीस कर पेस्ट बना लें और अपने मिलिया स्थान पर लगाकर छोड़ दें। आधा एक घंटा लगा रहने दे इससे भी आपको मिलिया की फुंसियों से बहुत जल्दी आराम मिलेगा।

प्याज का रस – यह भी मिलिया की फुंसियों को आराम देकर ठीक करेगा। इसके लिए आपको प्याज घिसकर उसका रस निकालकर मिलिया की फुंसियों पर लगाना है।

गुलाब जल – गुलाब जल चेहरे की त्वचा को ठंडक पहुंचने और जलन को कम करने में बहुत सहायक होता है। गुलाब जल बाजार में बहुत आसानी से उपलब्ध है। मिलिया से छुटकारा पाने में गुलाब जल का इस्तेमाल बहुत कारगर हो सकता है। गुलाब जल को आपको अपने प्रभावित स्थान पर दिन में 2 से 3 बार लगाना है। जल्द ही आपको मिलिया से छुटकारा मिलेगा।

मनुका शहद – यह शहद जीवाणुरोधी, एंटीऑक्सीडेंट और सूजन-रोधी होता है और इस शहद का उत्पादन केवल ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में होता है। अगर आपको यह शहद मिल जाये तो मिलिया से छुटकारा पाने का यह बहुत अच्छा आयुर्वेदिक उपाय है। आपको मनुका शहद लेकर अपने मिलिया प्रभावित स्थान पर लगाकर आधा घंटा छोड़ देना है और उसके बाद पानी से धो लेना है। ऐसा करने से आपको बहुत जल्दी मिलिया से छुटकारा मिल जयेगा।

यह भी पढ़ें: क्या आपके चेहरे पर मिलिया है? इनसे छुटकारा पाने के लिए यहां 10 उपयोगी घरेलू उपचार दिए गए हैं

नींबू और शक्कर स्क्रब – इन दोनों चीजों का स्क्रब आपकी ऊपरी मृत त्वचा को हटा देगा। जैसे की हमने बताया चेहरे की ऊपरी मृत त्वचा या कोशिकाएं मिलिया होने का बहुत बड़ा कारण होती है। इसलिए इन मृत कोशिकाओं का हटना बहुत जरुरी होता है। इसे बनाने के लिए आपको 1-2 चम्मच बारीक़ शक्कर लेनी है और उसमें नींबू का रस मिलाना है।
अब इसे 15 से 20 मिनट हल्के हाथों से गोल गोल घुमाते हुए मसाज करना है। उसके बाद अपने चेहरे को धो लें। इसे सप्ताह में 3 से 4 बार करें आप देखेंगे की बहुत जल्दी मिलिया कम होता चला जायेगा।

नारियल तेल – नारियल तेल सभी घरों में उपलब्ध होता है। नारियल तेल में बहुत अच्छे एंटीबैक्टेरियल गुण होते है। इसलिए नारियल तेल को मिलिया प्रभावित क्षेत्र में लगाने से बहुत जल्दी आराम मिलता है। इसे आप दिन में रात में सोने से पहले लगाकर इस्तेमाल कर सकते है।

एलोवेरा – एलोवेरा एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी बैक्टीरियल गुणों से भरपूर होता है और यह घरों में आसानी से उपलब्ध भी हो जाता है। एलोवेरा का जेल चेहरे की त्वचा की परेशानियों और सुंदरता के लिए अत्यंत लाभकारी है। यह स्किन की सभी प्रॉब्लम्स को दूर करता है चेहरे को सुन्दर और मुलायम बनाता है।
ऐसे ही एलोवेरा मिलिया के लिए भी अत्यंत लाभकारी है। एलोवेरा को नियमित रूप से मिलिया पर लगाने से यह इससे पूरी तरह से निजात दिलाता है और त्वचा को एकसार और मुलायम बनाता है।

Read Also:

The Lallantop-Milia यानी Skin पर सफ़ेद फुंसी वाले Pimples को आसानी से खत्म करने का तरीका | Sehat ep 78

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top