भारत में सबसे अच्छा सनस्क्रीन लोशन

सनस्क्रीन लोशन क्या है और इसका चुनाव कैसे करें

समय से पहले चेहरे पर उम्र का असर दिखना, झुर्रियाँ और ढलकी हुई त्वचा यह सब सूर्य की हानिकारक UV rays की वजय से भी हो सकती है। अपनी सुंदरता को बनाए रखने के लिए इनसे बचना बहुत जरुरी है और सूर्य की हानिकारक UV rays से बचने का सबसे अच्छा तरीका किसी अच्छे सनस्क्रीन लोशन के इस्तेमाल के अलावा और कोई नहीं है। आइये जाने भारत में सबसे अच्छा सनस्क्रीन क्या है और इसका चुनाव कैसे करें।

सनस्क्रीनलोशन क्या है और इसका चुनाव कैसे करें

अब सनस्क्रीन का इस्तेमाल तो कोई भी कर सकता है, लेकिन एक अच्छी सनस्क्रीन का चुनाव भी बहुत जरुरी है। अच्छी सनस्क्रीन का चुनाव कैसे करें, यह सवाल सबके मन में आता है जो हमारी त्वचा को पूरी सुरक्षा के साथ अन्य लाभ भी प्रदान करें। तो आइये आज के इस लेख में हम ऐसी सबसे बेस्ट सनस्क्रीनस के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे जो आपके लिए सबसे बेस्ट हो सकती है।

अपनी त्वचा के अनुसार सनस्क्रीन का चुनाव

हर व्यक्ति की त्वचा अलग अलग प्रकार की होती है। किसी की सामान्य, किसी की रूखी और शुष्क तो किसी की तैलिये। इसलिए अपनी त्वचा को ध्यान रखते हुए अगर आप अपनी सनस्क्रीन का चुनाव करते है तो आपको इसके बहुत अच्छे परिणाम देखने को मिलते है।

अगर आपकी त्वचा तैलिये है तो आपको जेल या स्प्रे बेस्ड सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना चाहिए। अगर स्किन रूखी या ड्राई है तो मॉइस्चराइजर बेस्ड सनस्क्रीन आपके लिए सबसे बेस्ट रहेगी।
दूसरा सनस्क्रीन का चुनाव करते हुए उसके SPF (सन प्रोटेक्शन फैक्टर) और PA (प्रोटेक्शन ग्रेड) का ध्यान रखना भी जरुरी होता है। यह 2 मानक यह तय करते है की सनस्क्रीन क्रीम आपको कितनी सुरक्षा प्रदान कर सकती है। आइये इन दोनों मानकों के बारे में जानकारी प्राप्त करें।

तैलीय त्वचा के घरेलू उपचार

यह भी जानें: फेस पर ग्लो कैसे लाए टिप्स इन हिंदी|ग्लोइंग स्किन पाने के लिए अपनाएं ये 6 नेचुरल उपाय

चेहरे पर रूखी और बेजान त्वचा का इलाज कैसे करें

रूखी त्वचा के घरेलू उपचार

लैक्टिक एसिड का उपयोग आपकी सुंदरता को 4 चाँद लगा सकता है

SPF और PA मानक

SPF (सन प्रोटेक्शन फैक्टर) – आपने सनस्क्रीन पर अक्सर SPF-15, SPF-30, SPF-50, SPF-100 लिखा हुआ देखा होगा। यह मानक आपकी त्वचा को सूर्य की हानिकारक किरणों से कितनी सुरक्षा प्रदान करेगा या दर्शाता है। जैसे की SPF-15 आपको 93%, SPF-30 आपको 97%, SPF-50 आपको 98% और SPF-100 आपको 100% की सुरक्षा प्रदान करते है।

उदहारण के तौर पर SPF चुनाव आपको सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणों में कितनी देर रहना है इस आधार पर SPF का चुनाव करना चाहिए। काम देर तक मतलब कम SPF और अधिक देर मतलब अधिक SPF क्रीम का चुनाव। अब आप समझ गए होंगे की SPF का मतलब क्या है और इसका चुनाव किस आधार पर करें।

SPF और PA मानक
SPF और PA मानक

PA (प्रोटेक्शन ग्रेड) – इसका मतलब होता है की सनस्क्रीन आपकी त्वचा को सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणों से कितनी गहराई तक सुरक्षा देगी। यह मानक आपको SPF के आगे प्लस + के निशान के रूप में दिखलाई देगा। अगर आपको SPF के आगे यह प्लस + का निशान दिखता है तो ऐसी सनस्क्रीन आपकी त्वचा को अधिक गहराई तक सुरक्षा प्रदान करेगी। जितने अधिक +++ के निशान रहेंगे उतनी अधिक गहराई तक सुरक्षा।
अब आप समझ गए होंगे की SPF और PA का क्या मतलब होता है।

आइये अब कुछ ऐसी भारत में सबसे अच्छा सनस्क्रीन लोशन के बारे में जानकारी प्राप्त करते है जिनका मार्केट में बहुत अच्छे परिणाम देखने को मिले है और इन सनस्क्रीन की गुणवत्ता भी अच्छी पाई गई है।

भारत में सबसे अच्छा सनस्क्रीन लोशन

1. Lotus Herbals सेफ सन UV सनस्क्रीन मैट जैल SPF 50

Lotus Herbals सेफ सन UV सनस्क्रीन मैट जैल SPF 50

2. Lakme सन एक्सपर्ट SPF 24 PA फेयरनेस UV सनस्क्रीन

Lakme सन एक्सपर्ट SPF 24 PA फेयरनेस UV सनस्क्रीन

3. WOW स्किन साइंस सनस्क्रीन मैट फ़िनिश

WOW स्किन साइंस सनस्क्रीन मैट फ़िनिश

4. Mamaearth’s अल्ट्रा लाइट नेचुरल सनस्क्रीन लोशन

Mamaearth's अल्ट्रा लाइट नेचुरल सनस्क्रीन लोशन

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top